Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

एक मां की ख़ातिर एक मां से दूर, जन्मदिन पर विडियो कॉल के जरिए लिया मां का आशीर्वाद।

एक मां की ख़ातिर एक मां से दूर, जन्मदिन पर विडियो कॉल के जरिए लिया मां का आशीर्वाद। @सांवल दान रतनू जैसलमेर/पोकरण। हम आप सब ...

एक मां की ख़ातिर एक मां से दूर, जन्मदिन पर विडियो कॉल के जरिए लिया मां का आशीर्वाद।

@सांवल दान रतनू
जैसलमेर/पोकरण। हम आप सब जब घरों में सुरक्षित है क्योंकि सीमा पर रात - दिन चौंकसी के साथ ड्यूटी को लेकर सजगता से तैनात आर्मी, बीएसएफ सहित सेनाओं के जवानों व अधिकारियों की बदौलत है। देश की सीमाओं पर तैनात हर कोई बंदूकधारी जवान हर वक्त दुश्मन से लोहा लेने के लिए तैयार रहता है कई बार दुश्मनों से लोहा लेते वतन के लिए शहीद भी होते है। वर्तमान पूरे विश्व में कोरोना का कहर जारी है, आम लोग घरों में दूबक कर अपनी जान की रक्षा करने में जूटे हुए, वहीं बीएसएफ व भारतीय सेना सहित अन्य सेनाओं के जवान व अधिकारी सीमा पर तैनात होकर कोरोना के साथ साथ आंतकवादियों से भी सामना कर रहे है, जिनको छुट्टी से पहले सीमाओं की हर वक्त चिंता रहती है।

"सीमा की सुरक्षा तो घर वालो का सारथी बनना"
बीएसएफ की 200 बटालियन में बांग्लादेश की सीमा पर तैनात होकर सेवा दे रहे भणियाणा तहसील के मेड़वा गांव निवासी युवा बीएसएफ जवान जेठूदान चारण जिनको छुट्टी आएं पांच माह से अधिक समय हो गया है  जवान के तीन दिन पहले पत्नी विमला कंवर की कोख से पुत्र प्राप्ति हुई जो नन्हा मेहमान बनकर घर आया है जिसकी खुशी का इजहार किया जा रहा है। आज युवा जवान जेठूदान चारण का जन्मदिन है घर से सैंकड़ो किमी दूर देश की सीमा पर ड्यूटी देकर अपना पूरा फर्ज निभा रहे है। जन्मदिन भी अपने साथियों के साथ मनाया, सुबह पहला विडियो कॉल जवान ने अपनी बुजुर्ग माता अणदू कंवर को कर जन्मदिन पर प्रणाम कर आशीर्वाद लिया, फिर वापिस सीमा पर रवाना हुआ। पिता खेतदान मेहड़ू का 10 वर्ष पहले निधन हो गया है, नौकरी करने के साथ घर का पूरा ख्याल रखना पड़ रहा है। बुजुर्ग माता, पत्नी बच्चे व पूरे परिवार का हर संभव सीमा पर सख्ताई के साथ ड्यूटी दें, वैसे ही पूरे परिवार को साथ लेकर चलना पड़ रहा है। सीमा पर तैनात युवा जवान को अपने परिजनों के साथ साथ गांव के युवाओं व बुजुर्गो ने दूरभाष, सोशल मीडिया से बधाई देकर उज्जवल भविष्स की कामनाएं की है। बीएसएफ जवान जेठूदान को जैसलमेर के पूर्व जिला प्रमुख नैंनदान रतनू, दादा आईदानज मेहडूं, चाचा पीरदान मेहड़ू, नारक्रोटिक्स ब्यूरो (एनसीबी) महाराष्ट्र - गोवा - गुजरात के जॉनल डारेक्टर उगमदान चारण, समाजसेवी ओमदान चारण, शिक्षाविद् बुधकरण रतनू, अशोक चारण, नरपतसिंह रतनू, उद्यमी हरिसिंह मेंहड़ू, एडवोकेट सवाईसिंह उज्जवल, सवाईसिंह मेहडूं, वरिष्ठ पत्रकार सांवलदान रतनू, गजेन्द्र सुथार, सुनील टावरी, पारस माली, रेवत दान, डॉक्टर सवाईसिंह, देवीदान, श्रवणदान, पृथ्वीसिंह चौहान, भोमाराम सुथार, शिक्षाविद् किशदान चारण, नैनदान चारण, सोहनदान बिठू, राजेन्द्र बिठू, दिनेश सुथार सहित सैंकड़ो गांव सहित आसपास गांवो के युवाओं ने जन्मदिन की बधाई देकर देश की सीमा पर अपने गांव का जवान तैनात होने पर खूद को खुश महसूस करते हुए मंगलकामनाएं की। 



"जन्मदिन पर विडियो कॉल कर माता से लिया आशीर्वाद"
मेड़वा निवासी जेठूदान चारण का आज 30 वां जन्मदिन है। सीमा की सुरक्षा करना अपना पहला कर्तव्य मानते हुए निडरता से ड्यूटी पर तैनात है। बीएसएफ जवान जेठूदान का जन्मदिन होने पर ड्यूटी जाने से पहले अपनी माता को वीडीओ कॉल करके प्रणाम करते हुए आशीर्वाद लिया वहीं बुजुर्ग माता ने अपने बेटे की लम्बी उम्र की मंगलकामनाएं करते हुए शुभकामनाएं दी। जेठूदान ने बताया कि बीएसएफ में सेवा के श्रीगणेश से लगातार अपने जन्मदिन पर पहला वीडीओ कॉल या सामान्य कॉल अपनी माता को कर आशीर्वाद लेकर ड्यूटी पर रवाना होता हूँ।

कोई टिप्पणी नहीं