Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

पोस्टर से छेड़छाड़ कर बदनाम करने की साजिश का पर्दाफाश: विधायक ग्रासिया

पोस्टर से छेड़छाड़ कर बदनाम करने की साजिश का पर्दाफाश: विधायक गरासिया @मुकेश पाल सिंह सिरोही/पिंडवाड़ा। आबू-पिंडवाड़ा विधायक स...

पोस्टर से छेड़छाड़ कर बदनाम करने की साजिश का पर्दाफाश: विधायक गरासिया

@मुकेश पाल सिंह
सिरोही/पिंडवाड़ा। आबू-पिंडवाड़ा विधायक समाराम गरासिया ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि कुछ लोग पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के खिलाफ षड्यंत्र रच रहे हैं। लेकिन वे इसमें सफल नहीं होंगे क्योंकि राजे जन जन की नेता हैं। वही पूर्व मुख्यमंत्री राजे के खिलाफ इस तरह की जो गन्दी राजनीति की जा रही है वह बहुत ही घिनौनी हैं। वही राजे की लोकप्रियता के कारण राजे दो बार मुख्यमंत्री, तीन बार सांसद, चार बार विधायक रह चुकी हैं, उनकी जनता में कितनी लोकप्रियता है, वह प्रदेश में किसी से छिपी नहीं है। वहीं विधायक गरासिया ने कहा है कि वसुंधरा राजे के खिलाफ की गई साजिश का पर्दाफाश हो गया है, और राजस्थान की जनता जान गई है कि किस प्रकार राजे की छवि खराब करने की मंशा से एक पोस्टर निकाला हैं। गरासिया ने प्रेस नोट में बताया कि मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा क्षेत्र में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ उनके बेटे के पोस्टर लगे थे, उसी पोस्टर का इस्तेमाल कर राजे के खिलाफ झूठी खबर चलाई गई। तथा इस पोस्टर में कमलनाथ और उनके बेटे के फोटो के स्थान पर वसुंधरा और उनके बेटे दुष्यंत का फोटो पेस्ट कर खबर चला दी है। वही विधायक ग्रासिया ने कहा कि जिन लोगों ने ऐसे किया है उनकी बहुत ही ओछी हरकत है। वही पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को बदनाम करने के लिए विरोधी लोग कैसे-कैसे षडयंत्र रच रहे हैं वो किसी से छुपा नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के खिलाफ विधानसभा चुनाव 2013 में पहले भी इस तरह के फ़ोटो वायरल कर षडयंत्र किया गया था। लेकिन जनता ने 163  सीटो पर अपार जनसमर्थन प्राप्त कर भाजपा ने विजयश्री हासिल की थी। वही प्रतिपक्ष बचाना भी बड़ी मुश्किल हो गया था गरासिया ने बताया कि राजनीति में विरोध जायज है, पर पीट के पीछे छुप छुप कर वार करना कायरो जैसी हरकत हैं।

कोई टिप्पणी नहीं