Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

राजस्थान: खाद्य सुरक्षा से वंचित रहे बेसहारा एवं जरूरतमंद परिवारों का दोबारा होगा सर्वे।

राजस्थान: खाद्य सुरक्षा से वंचित रहे बेसहारा एवं जरूरतमंद परिवारों का दोबारा होगा सर्वे। प्रदेश में सर्वे का कार्य 3 अगस्त तक क...

राजस्थान: खाद्य सुरक्षा से वंचित रहे बेसहारा एवं जरूरतमंद परिवारों का दोबारा होगा सर्वे।

प्रदेश में सर्वे का कार्य 3 अगस्त तक किया जायेगा।
जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देशानुसार प्रदेश में खाद्य सुरक्षा से वंचित रहे बेसहारा एवं जरूरतमंद परिवारों एवं व्यक्तियों को खाद्य सुरक्षा प्रदान करने केे लिए सर्वे का कार्य प्रारंभ हो गया है, जो कि 3 अगस्त तक चलेगा।  राज्य सरकार ने इस संबंध में सभी जिला कलेक्टरों को पत्र लिखकर निर्देश जारी कर दिये गये है। सर्वे के दौरान पंजीयन से वंचित रहे, बेसहारा एवं जरूरतमंद परिवारों की प्राप्त सूचना को ऑनलाईन करवाया जायेगा। साथ ही ऎसे जरूरतमंद एवं बेसहारा परिवारों का पुनः सर्वे करवाकर पंजीयन करवाया जायेगा।
जनाधार के डेटाबेस को लिया जायेगा कामप्रदेश में बेसहारा एवं जरूरतमंद परिवारों का पूर्व की भांति ई-मित्र/ई-मित्र मोबाईल एप, ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायत स्तरीय कोर गु्रप एवं शहरी क्षेत्र में नगरीय निकाय एवं बीएलओ के माध्यम से सर्वे करवाया जायेगा। जनाधार के डेटाबेस में उपलब्ध सूचना के आधार पर सर्वे एवं पंजीयन की कार्यवाही की जायेगी। जनाधार के डेटा में से राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना में चयनित परिवारों को छोड़कर शेष सभी परिवारों का जिलेवार डेटा उपलब्ध है।
व्यवसाय एवं आजीविका की सूचना देना होगा जरूरीसर्वे के दौरान बेसहारा एवं जरूरतमंद पात्र व्यक्तियों एवं परिवारों से उनके व्यवसाय एवं आजीविका की सूचना आवश्यक रूप से प्राप्त की जायेगी। मोबाईल एप या ई-मित्र पर व्यवसाय एवं आजीविका की सूची उपलब्ध रहेगी। प्रदेश में सर्वे के समय बेसहारा एवं जरूरतमंद परिवारों से सूचना प्राप्त कर उचित मूल्य की दुकान से मैपिंग का कार्य पूर्ण किया जाएगा। जिन बेसहारा एवं जरूरतमंद परिवारों का पहले ही सर्वे किया जा चुका है, उनकी सर्वे की आवश्यकता नहीं रहेगी।

कोई टिप्पणी नहीं