Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बाड़मेर के युवा नेता राठौड़ ने जसवंत सिंह को दी श्रद्धांजलि।

बाड़मेर के युवा नेता राठौड़ ने जसवंत सिंह को दी श्रद्धांजलि। बाड़मेर। पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह जसोल का रविवार को दिल्ली स्थित अस्पताल म...

बाड़मेर के युवा नेता राठौड़ ने जसवंत सिंह को दी श्रद्धांजलि।


बाड़मेर। पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह जसोल का रविवार को दिल्ली स्थित अस्पताल में निधन हो गया था, जिनका पार्थिव देह जोधपुर स्थित अपने फार्म पर लाया गया। बाड़मेर के युवा नेता आज़ाद सिंह सहित कई लोगों ने अंतिम दर्शन कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

कांग्रेस के युवा नेता आज़ाद सिंह राठौड़ ने बताया कि जसवंत सिंह जसोल राजस्थान सहित पूरे हिंदुस्तान की शान थे। जिन पर मारवाड़ को गर्व है और जसवन्त सिंह के नाम राजनीति में कई मानक स्थापित है। जसवन्त सिंह जी एक सैनिक, लेखक और विद्वान राजनेता थे। उनका कद देश विदेश के सर्वोच्च नेताओं में शुमार था। जसवंत सिंह जी 9 बार सासंद रहे, वित्त, विदेश एवं रक्षा जैसे महत्वपूर्ण विभागों के मंत्री रहे ओर सरकार के हर महत्वपूर्ण निर्णय में उनकी सलाह ली जाती थी। विपक्ष में रहने के दौरान भी विदेश नीति हो या वित्त मंत्रालय से सम्बंधित कोई भी मामला, जसवन्त सिंह जी की सलाह से ही होता था। उनकी लिखी पुस्तकें आने वाली पीढ़ियों के लिये ज्ञान और जानकारी के ख़ज़ाने से कम नहीं है। जसवंत सिंह जी की वजह से ही पूरे मारवाड़ को एम्स जैसी बेहतरीन चिकित्सा सुविधाएं मिल पाई जो आज कोरोंना काल में मारवाड़ की जनता के लिये संजीवनी साबित हो रही है। इसके अतिरिक्त बाड़मेर में रेल लाइन को ब्राडगेज में बदला और थार एक्सप्रेस व मालाणी एक्सप्रेस को चलाने में भी जसवंत सिंह का ही अहम योगदान था। जसवंत सिंह अपने सिद्धांतों पर अडिग व स्वाभिमान से जीने वाले व्यक्ति थे उन्होंने अपने आदर्शों से कभी समझौता नहीं किया। भारतीय जनता पार्टी द्वारा दो बार उनका निष्कासन के दर्द आज भी मारवाड़ व मालाणी के जन जन को सालता है और आहत करता है।

राठौड़ ने बताया कि उनके अंतिम दर्शन करने के लिए बाड़मेर जैसलमेर सहित पूरे देश से लोग आए और दर्शन कर सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित की।

कोई टिप्पणी नहीं