Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बाड़मेर में ऑपरेशन बोतल पाम के तहत लगाए 51 पौधे।

बाड़मेर में ऑपरेशन बोतल पाम के तहत लगाए 51 पौधे। - बाड़मेर शहर में वाटर लोगिंग की समस्या के समाधान के लिए पौधारोपण जारी। बाड़मेर। शहर में भूम...

बाड़मेर में ऑपरेशन बोतल पाम के तहत लगाए 51 पौधे।


- बाड़मेर शहर में वाटर लोगिंग की समस्या के समाधान के लिए पौधारोपण जारी।
बाड़मेर। शहर में भूमिगत जल की समस्या के समाधान के लिए ऑपरेशन बोतल पाम के तहत शनिवार को राजकीय महाविद्यालय, नेहरू युवा केन्द्र एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी के सरकारी आवास पर पौधारोपण किया गया। इसके तहत 51 पौधे लगाने के साथ पेड़ के रूप में तब्दील होने तक उनकी सार संभाल का संकल्प लिया गया।
ऑपरेशन बोतल पाम के तहत राजकीय महाविद्यालय स्थित एनसीसी कॉम्पलेक्स में उजास के चैयरपर्सन डॉ. आदर्श किशोर, सामाजिक सुरक्षा अधिकारी पुखराज सहारन, केयर्न इंडिया के सीएसआर अधिकारी राहुल शर्मा, रामाराम सेंवर, महिपाल कमेडिया, कैलाश भांभू, अचलाराम माली, ललित सऊ, मदन बारूपाल, प्रवीण बोथरा, जसवंतसिंह एवं उजास की उम्मीदों के तहत निःशुल्क सेना भर्ती की तैयारी कर रहे युवाओं ने पौधारोपण किया। इस दौरान उजास के चैयरपर्सन डॉ. आदर्श किशोर एवं सीएसआर अधिकारी राहुल शर्मा ने ऑपरेशन बोतल पाम के तहत पौधारोपण की सराहना की। इसी तरह नेहरू युवा केन्द्र परिसर में जिला युवा समन्वयक सचिन पाटोदिया, लेखाधिकारी घेवरचंद प्रजापति, ललित सउ, अध्यापक भोमाराम, अमरसिंह सेवदा एवं अन्य युवाओं ने बोतल पाम का पौधारोपण किया। नेहरू युवा केन्द्र में लंबे समय से वाटर लोगिंग की समस्या के चलते खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसके उपरांत जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मोहनदान रतनू के सरकारी आवास पर 21 बोतल पाम लगाए गए। मुख्य कार्यकारी अधिकारी मोहनदान रतनू, सांख्यिकी अधिकारी नखताराम ईशराम, हितेश  मूंदड़ा, चेनाराम, अशोक राजपुरोहित, अर्जुनसिंह, मदनसिंह, वीरमाराम, ललित सउ, द्वारकाराम, प्रवीण बोथरा, जसवंतसिंह समेत कई युवाओं ने पौधारोपण किया। मुख्य कार्यकारी अधिकारी रतनू ने भूमिगत जल की समस्या के समाधान के लिए पौधारोपण की सराहना करते हुए कहा कि इससे हरियाली के साथ वाटर लोगिंग से राहत मिलेगी। उन्होंने आफिसर कॉलोनी में भूमिगत पानी की समस्या से अवगत कराया। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 151 वीं जयंती के अवसर पर बीएसएफ सेक्टर मुख्यालय में बाड़मेर रिसोर्स सेंटर एवं सदभावना यात्रा टीम की ओर से पौधारोपण की शुरूआत की गई थी। इधर, ऑपरेशन बोतल पाम से जुड़े मदन बारूपाल ने बताया कि दिसंबर माह में बाड़मेर शहर में जन भागीदारी से करीब 500 पौधे लगाए जाएंगे। 


पौधारोपण के लिए गडडा खोदा तो आया पानीः 
मुख्य कार्यकारी अधिकारी रतनू के आवास में पौधारोपण के लिए करीब डेढ़ फीट का गडडा खोदा तो अंदर से पानी आने लगा। मौजूदा समय में आफिसर कॉलोनी एवं कलेक्ट्रेट परिसर में अधिकांश स्थानों पर वाटर लोगिंग की समस्या है। ऐसे में ऑपरेशन बोतल पाम से आगामी समय में वाटर लोगिंग से राहत मिलने की उम्मीद है।


युवाओं ने दिखाया उत्साहः 
पौधारोपण को लेकर एनसीसी कैडेटस, सेना भर्ती में जुटे युवाओं के साथ नेहरू युवा केन्द्र में पौधारोपण को लेकर युवाओं ने उत्साह दिखाया। उन्होंने मुख्य कार्यकारी अधिकारी के आवास पर पहुंचकर गडडे खोदने एवं पौधारोपण करने में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभाई।


क्या है बोतल पामः 
बोतल पाम पौधा बड़ा होने पर अपने तने में करीब 1 लाख 20 हजार लीटर पानी का संग्रहण करता है। इसकी उम्र हजारों साल होती है। बाड़मेर शहर के नीचे हार्ड फोरमेशन होने के कारण जल निकासी संभव नहीं है। ऐसी स्थिति में बोतल पाम वाटर लोगिंग की समस्या के समाधान के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते है।

कोई टिप्पणी नहीं