Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

मोबाईल दुकान से मोबाईल व रूपये चुराने की वारदात का पर्दाफास, एक आरोपी गिरफतार।

मोबाईल दुकान से मोबाईल व रूपये चुराने की वारदात का पर्दाफास, एक आरोपी गिरफतार। बाड़मेर। जिला पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा द्वारा जानकारी देते हुए...

मोबाईल दुकान से मोबाईल व रूपये चुराने की वारदात का पर्दाफास, एक आरोपी गिरफतार।


बाड़मेर। जिला पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा द्वारा जानकारी देते हुए बताया कि 24 अक्टूबर की रात्रि को सिणधरी क़स्बे में सांचोर रोड़ पर स्थित मोबाईल फोन एवं एसेसरीज की दुकान में हुई नकबजनी के प्रकरण में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बालोतरा नितेश आर्य, वृताधिकारी गुड़ामालानी श्योराजमल मीना के निकट सुपरविजन में बलदेवराम उ.नि. थानाधिकारी पुलिस थाना सिणधरी मय पुलिस टीम द्वारा नकबजनी की वारदात का खुलासा करते हुए चोरी गये मोबाईल फोन बरामद कर एक आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की गई है। 

घटना का विवरणः
गत 25 अक्टूबर को पुलिस थाने में प्रार्थी बबलू पुत्र हीरसिह रावणा राजपुत निवासी सिणधरी चौसीरा ने प्रकरण दर्ज करवाया कि मेरी सांचौर रोड़ पर मोबाईल फोन एवं एसेसरीज की दुकान है। और 24 अक्टूबर को रात्रि करीबन 10.30 बजे रोजाना की तरह मैं मेरी दुकान बन्द करके घर चला गया। पीछे से कोई अज्ञात चोरों ने मेरी दुकान के पीछे से टीनशेड (पतरे) को तोड़कर अन्दर घुस गये एवं मेरी दुकान से कई लाख रूपयां कीमत के करीबन 53 मोबाईल अलग-अलग वैरायटी के एवं 20 हजार रूपये रोकड़ की चोरी कर ले गये। इस पर पुलिस ने टीम का गठन कर जांच शुरू की गई।

टीम ने आरोपी को गिरफतार करने में सफलता हासिल की:
नकबजनी की वारदात का खुलासा करने के लिए बलदेवराम उ.नि. थानाधिकारी सिणधरी के नेतृत्व में टीम गठित कर अज्ञात मुलजिमानों की तलाश शुरू की गई। विशेष टीम द्वारा गहन अनुसंधान करते हुए आमसूचना संकलन कर संदिग्धों पर सतत निगरानी रखी गई। पुलिस टीम द्वारा अनुसंधान के दौरान पाया गया कि दो दिन पूर्व दो व्यक्ति परिवादी की दुकान पर आना तथा बिना कुछ खरीदे ही दुकान पर काफी देर तक खड़े रहने के कारण संदिग्ध प्रतीत होने पर उक्त दोनो ही युवकों की पहचान करवाकर आमसूचना प्राप्त की गई। तो ज्ञात हुआ कि दोनो ही युवक सगे भाई है तथा दो-तीन दिन पूर्व ही दोनो भाईयों ने नये मोबाईल लिये है। जिस पर पुलिस टीम द्वारा आज दिनांक 30 अक्टूबर को संदिग्ध लाधाराम पुत्र पदमाराम जाति जाट निवासी कागों की ढाणी को दस्तयाब कर पूछताछ की गई तो मुलजिम लाधाराम ने अपने सगे भाई भोजाराम के साथ मिलकर वारदात करना स्वीकार किया जिस पर मुलजिम को गिरफतार कर उसकी निशानदेही से प्रकरण में चोरी गये 48 मोबाईल फोन जिसकी कीमत करीबन पांच लाख रुपये एवं 9275/- रुपये नगद बरामद किये गये है। प्रकरण में सरीक मुलजिम भोजाराम की दस्तयाबी के प्रयास जारी है। गिरफतार मुलजिम से पूछताछ एवं अन्वेशण किया जा रहा है।

अन्य वारदात का भी खुलासा:
गिरफ्तार अभियुक्त लाधाराम ने दिनांक 19 सितंबर की रात्रि में ग्राम सड़ा स्थित राजस्थान मरुधरा ग्रामीण बैंक में भी अपने भाई भोजाराम के साथ चोरी करने का प्रयास किया मगर बैंक के स्ट्रांग रूम का ताला नहीं टूटने के कारण चोरी करने में सफल नहीं हो सके थे।

वारदात का खुलासा करने में शामिल पुलिस टीम:
बलदेवराम उनि, कानाराम हैड कानि, लजपतसिंह हैड कानि, आईदानराम हैड कानि, उदाराम कानि, रामाराम कानि, चूनाराम कानि, प्रेमसुख कानि, प्रेमाराम कानि एसपीओ बाड़मेर की टीम के प्रयासों से इस प्रकरण का खुलासा करने में सफलता हासिल की हैं।

कोई टिप्पणी नहीं