Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

शनिवार को कुशल वाटिका में श्रद्धालुओं ने किए दर्शन।

शनिवार को कुशल वाटिका में श्रद्धालुओं ने किए दर्शन। बाड़मेर। कोविड-19 के दौरान लॉकडाउन के बाद शनिवार को बाड़मेर-अहमदाबाद रोड़ पर स्थित कुशल वाट...

शनिवार को कुशल वाटिका में श्रद्धालुओं ने किए दर्शन।


बाड़मेर। कोविड-19 के दौरान लॉकडाउन के बाद शनिवार को बाड़मेर-अहमदाबाद रोड़ पर स्थित कुशल वाटिका में विश्व का द्वितीय राजहंस मन्दिर में शनिवार को मास्क लगाकर सरकारी गाइड लाइन के अनुसार श्रद्धालुओ ने दर्शन किये। कुशल वाटिका ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष बाबूलाल टी बोथरा ने बताया कि लॉकडॉउन के कई महीनों बाद कोविड-19 के दौरान सोशल डिस्टेंस के साथ बाड़मेर शहर के समीप कुशल वाटिका प्रांगण में शनिवार को कई भक्तों ने पहुँच कर दर्शन वंदन का लाभ लिया, जिसमें बाड़मेर शहर से जैन बन्धुओं ने पहुंच कर पूजा अर्चना की।जहां कुशल वाटिका में विराजमान मूलनायक मुनिसुव्रत स्वामी भगवान मन्दिर, दादावाड़ी, नवग्रह मन्दिर, गुरू मन्दिर देवी-देवताओ के आदि मन्दिरो के दर्शन, पूजा, आदि की गई। बोथरा ने बताया कि शनिवार को कुशल वाटिका मे कई भक्तों द्वारा केशर पूजा कर भगवान से कोरोना को जल्द ही निपटने की कामना करते हुए देश मे खुशहाली की कामना की। कुशल वाटिका शनिवार दर्शन के दौरान कोषाध्यक्ष बाबुलाल टी बोथरा, ट्रस्टी कैलाश धारीवाल, इंजी दिलीप जैन, गौतमचंद वडेरा मरुलहर, मदनलाल सिंघवी, मदनलाल वडेरा, सम्पतराज अवतारी, सम्पतराज संखलेचा, पत्रकार अशोक राजपुरोहित, नेमीचन्द मालू, अशोक कवास, रतनलाल मालू,  प्रकाश लूणिया, कपिल धारीवाल, बाबूलाल बोथरा हेमरत्न, अशोक सेठिया, सम्पतराज श्रीश्रीमाल, प्रकाश छाजेड़, कपिल मालू, प्रकाश विश्नोई, हितेश डूंगरवाल, उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं