Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

सड़कों पर फैला फैक्ट्रियों का प्रदूषित पानी, आदेशों की हो रहीं है अवहेलना।

सड़कों पर फैला फैक्ट्रियों का प्रदूषित पानी, आदेशों की हो रहीं है अवहेलना।  @ भगाराम पंवार बाड़मेर/बालोतरा। शहर के रिको औद्योगिक क्षेत्र में प...

सड़कों पर फैला फैक्ट्रियों का प्रदूषित पानी, आदेशों की हो रहीं है अवहेलना।


 @ भगाराम पंवार
बाड़मेर/बालोतरा। शहर के रिको औद्योगिक क्षेत्र में प्रदूषण नियंत्रण के मानकों की पालना नहीं हो रही है। औद्योगिक इकाइयों व कारखानों से सीईटीपी प्लांट जाने वाली पाइप लाइनों की आड़ में पिछले लंबे समय से रासायनिक प्रदूषित पानी इकाई परिसर के बाहर सडक़, नालें व खाली पड़े भूखंड़ों में डाला जा रहा है। औद्योगिक क्षेत्र के तमाम रास्तों पर प्रदूषित पानी फेला पड़ा है। अनेक स्थानों पर तो खाली पड़े भूखंड़ों व नदी में छोड़ा गया रासायनिक प्रदूषित पानी तालाब का रूप ले चूका है।

प्रदूषण मंडल अधिकारी जानबूझकर कर रहे अनदेखा:
ऐसा नहीं है कि प्रदूषण फैलने की जानकारी प्रदूषण नियंत्रण मंडल के अधिकारियों को नहीं है। इसके अलावा सीईटीपी सहित प्रशान को इसकी जानकारी है परंतु इच्छाशक्ति नहीं है। यह सब जानबूझकर अनदेखा किया जा रहा है। औद्योगिक क्षेत्र में रासायनिक प्रदूषित पानी से सडक़ें तालाब में तब्दील हो गई। राहगिरों व वाहन चालकों को घुटनों तक पानी में गुजरना पड़ रहा है।

क्षमता से अधिक पानी बना मुसीबत, एनजीटी के आदेशों की अवहेलना:
सीईटीपी का प्लांट में जीतना क्षमता है उतना पानी लिया जाता है लेकिन कारखानों वाले अधिक पानी को छोड़ देते है जिससे वह ओवरफ्लों होकर सड़कों पर बह रहा है। इसमें जितना पानी ट्रीट करने की क्षमता है उससे कहीं अधिक प्रदूषित पानी फैक्ट्रिीयों से आ रहा है इसमें कोई दो राय नहीं है। लेकिन इसकी आड़ में कारखानों के मालिक प्रदूषित पानी को सड़कों, खेतों व खाली पड़े भूखंड़ों में बहां रहे है। ऐसे में खुलेआम एनजीटी के आदेशों की अवहेलना की जा रहीं है।

कोई टिप्पणी नहीं