Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

बाड़मेर के कौशलू गांव में ट्यूबवेल में पानी की जगह निकल रही हैं आग।

बाड़मेर के कौशलू गांव में ट्यूबवेल में पानी की जगह निकल रही हैं आग। बाड़मेर। जिले के सिणधरी थानांतर्गत कौशलू गांव में गुरुवार को जलदाय विभाग ...

बाड़मेर के कौशलू गांव में ट्यूबवेल में पानी की जगह निकल रही हैं आग।


बाड़मेर। जिले के सिणधरी थानांतर्गत कौशलू गांव में गुरुवार को जलदाय विभाग के ट्यूबवेल में आग लगने से आसपास के क्षेत्र में हड़कंप मच गया। पानी के ट्यूबवेल में अचनाक आग की लपटें निकलने की सूचना पर दर्जनों ग्रामीण मौके पर जमा हो गए। जिसके बाद ग्रामीण ने स्थानीय प्रशासन एवं पुलिस की घटना की सूचना दी। गौरतलब है कि कौशलू गांव के आसपास कार्यरत तेल कंपनियों द्वारा तेल उत्खनन का कार्य किया जा रहा है। संभावना जताई जा रही है कि ट्यूबवेल में किसी ज्वलनशील गैस के रिसाव की वजह से आग लगने की घटना सामने आई। ट्यूबवेल में आग लगने की जानकारी से गांव में दहशत फैल गई। हालांकि ट्यूबवेल में आग लगने से किसी प्रकार का नुकसान अथवा कोई जनहानि नहीं हुई। घटना की सूचना पर पहुंचे प्रशासनिक अधिकारीयों ने घटनास्थल का मौका मुआयना कर आग लगने के कारणों की पड़ताल शुरू की. वहीं मौके पर एकत्रित हुए लोगों ने केयर्न समेत अन्य तेल उत्खनन के कार्य मे लगी कंपनियों पर लापरवाही का आरोप लगाया।  

पूरे मामले को लेकर जिला कलेक्टर विश्राम मीणा ने कहा कि पीएचईडी विभाग के एक ट्यूबवेल में आग लगने का मामला संज्ञान में आया है। घटना की तथ्यात्मक रिपोर्ट के लिए पीएचईडी, तहसीलदार और एसडीएम को मौके पर भेजा गया है। वहीं पीएचईडी को जिले में बंद पड़े ट्यूबवेल का भंडारण करने के निर्देश दिए है। वहीं इसमें किसी कार्मिक की लापरवाही पाई जाती है तो दोषी कार्मिको के खिलाफ नियमानुसार कार्यवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि तेल उत्खनन क्षेत्रों में ट्यूबवेल या कुए में आग लगने की यह पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी एक ट्यूबवेल में आगजनी की घटना सामने आई थी। फिलहाल इस घटना में कोई नुकसान होने की बात सामने नहीं आई है। लेकिन अचानक ट्यूबवेल में लगी आग के बाद आसपास के क्षेत्र के लोगों में दहशत का माहौल व्याप्त है और प्रशासन की टीमें आग लगने के कारणों की पड़ताल में जुटी नजर आई।

कोई टिप्पणी नहीं