Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

कांग्रेसजनों ने बलिदान दिवस और एकता दिवस पर दिवंगत नेताओं को दी श्रद्धांजलि।

कांग्रेसजनों ने बलिदान दिवस और एकता दिवस पर दिवंगत नेताओं को दी श्रद्धांजलि। @ भगाराम पंवार बाड़मेर/बालोतरा। भारत की पूर्व प्रधानमंत्री भारत ...

कांग्रेसजनों ने बलिदान दिवस और एकता दिवस पर दिवंगत नेताओं को दी श्रद्धांजलि।

@ भगाराम पंवार
बाड़मेर/बालोतरा। भारत की पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्वर्गीय श्रीमती इंदिरा गांधी की 36 वीं पुण्यतिथि बलिदान दिवस के रूप में तथा लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की 145 वीं  जयंती एकता दिवस के रूप में मनाई गई। स्थानीय गोविंद नगर रत्नेश्वर महादेव मंदिर के समीप स्थित रिसोर्ट में ब्लॉक अध्यक्ष भगवत सिंह जसोल तथा युवा अध्यक्ष अशरफ अली ने दिवंगत नेताओं की तस्वीरों पर पुष्प हार पहना कर श्रद्धांजलि अर्पित की। आयोजित विचार संगोष्ठी को संबोधित करते हुए ब्लॉक संगठन महामंत्री शंकरलाल सलुन्दिया ने कहा कि देश की एकता के लिए इंदिरा गांधी ने अपना जीवन न्योछावर कर दिया प्रधानमंत्री के रूप में उनका निर्णायक नेतृत्व प्रेरणा दायी है। पाकिस्तान के दो टुकड़े करवा कर फौलादी इरादे दिखाने वाली दुर्गा रूपी इंदिरा जी ने भारत को परमाणु शक्ति संपन्न राष्ट्र व कृषि क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाया। गांधी विचार मंच के अल्ताफ अहमद ने कहा कि गरीबों दलितों अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए जीवन भर काम करने वाली इंदिरा गांधी शताब्दी की महानतम महिला थी। इस अवसर पर पेंशनर प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष जैसल सिंह खारवाल ने सरदार पटेल के बारे में बोलते हुए कहा कि पंडित जवाहरलाल नेहरु के मंत्रिमंडल में गृह मंत्री के रूप में सरदार पटेल ने 565 देसी रियासतों को भारत गणराज्य में मिलाकर अखंड भारत की नींव रखी थी। वह सच्चे अर्थों में अखंड भारत के शिल्पकार थे हमें उन पर नाज है। शिक्षाविद पाबूलाल भाटी ने कहा कि सरदार पटेल कांग्रेस की विरासत है जिसे अब हड़पने का प्रयास किया जा रहा है हम सभी को लोकतांत्रिक मूल्यों एवं देश के धर्मनिरपेक्ष स्वरूप को बनाए रखने के लिए सदैव एकजुट रहना है तथा इंदिरा जी व सरदार पटेल से प्रेरणा लेते हुए कांग्रेस पार्टी को मजबूत बनाना है। युवा नेता देवकिशन गोयल ने युवाओं से देश व  पार्टी के गौरवशाली इतिहास को पढऩे व दिवंगत नेताओं के बताए रास्ते पर चलने की अपील की। संगोष्ठी में उपसभापति राधेश्याम माली, ब्लॉक उपाध्यक्ष रामेश्वर प्रजापत, ओम भाटिया, मोतीलाल माली, राजीव कुमार, आरिफ छिपा हनीफ खिलजी, देवराज, कालूडी, पारस तीरगर, हनुमान देवासी, बगदाराम बॉस, ऊकाराम बारूपाल, अर्जुन मेघवाल सहित उपस्थित कांग्रेस जनों ने स्वर्गीय नेताओं को याद कर श्रद्धासुमन अर्पित किए।

कोई टिप्पणी नहीं