Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

पिण्डवाड़ा नगर पालिका की बजट बैठक में 61.34 करोड़ का बजट पारित।

पिण्डवाड़ा नगर पालिका की बजट बैठक में 61.34 करोड़ का बजट पारित। सिरोही/पिंडवाड़ा। मंगलवार को नगर पालिका बोर्ड की वित्तीय वर्ष 2021 - 22 को लेकर...

पिण्डवाड़ा नगर पालिका की बजट बैठक में 61.34 करोड़ का बजट पारित।



सिरोही/पिंडवाड़ा। मंगलवार को नगर पालिका बोर्ड की वित्तीय वर्ष 2021 - 22 को लेकर बजट संबंधित बैठक अंबेडकर भवन में आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता पालिका अध्यक्ष जितेंद्र प्रजापत ने की। बैठक में आय व्यय समेत आगामी वित्तीय वर्ष के बजट को लेकर चर्चा की गई। बैठक में बजट के बजाय सर्वप्रथम पार्षदों ने अपनी अपनी समस्याओं से सदन को अवगत करवाया। जिसको लेकर अधिशाषी अधिकारी दीपिका वीरवाल ने इस बैठक में बजट से संबंधित चर्चा करने की बात कही। जिस पर पार्षदों ने जल्द ही बोर्ड की आम सभा बुलवाने  की मांग की। जिससे बोर्ड की बजट बैठक रोचक रही। 

अधिशाषी अधिकारी दीपिका विरवाल द्वारा बजट बैठक में आय-व्यय का ब्यौरा तथा आगामी वित्तीय वर्ष के लिए 61.34 करोड का बजट प्रस्तावित किया। जिसमें कर्मचारियों के वेतन, बोनस, पेंशन आदि संस्थापन व्यय में 7.15 करोड़।

 - लाइट, पानी, दूरभाष, मोबाइल ,समाचार पत्र, पत्रिकाएं, मुद्रण, यात्रा, बीमा ,विधिक, अंकेक्षण,  विज्ञापन, प्रदर्शनी, अतिथि सत्कार, औषधी फिनाइल एवं आकस्मिक व्यय आदि प्रशासनिक व्यय में 1. 14 करोड़।

- ईंधन, रोड लाइट, पानी, मरम्मत एवं संसाधन बाग ,नर्सरी ,मूत्रालय, प्राकृतिक आपदा सहित अन्य परिचालन एवं संधारण व्यय में 4. 64 करोड़।

- ब्याज एवं वित्तीय व्यय में 50 लाख।
- कार्यालय के उत्सव, त्यौहार एवं निर्वाचन आदि व्यय में 30 लाख खर्च होंगे।

- वही सड़क व नाले में 3. 50 करोड़ तथा विकास अनुदान 5 करोड़, एनयूएलएम योजना में10 लाख, स्वच्छ भारत मिशन में 2.25 करोड़, कोविड-19 में 25 लाख, कार्यालय, सामुदायिक, फायर स्टेशन भवनों में 1.15 करोड़।

सीसी रोड़, डामर रोड़ व अन्य सड़कों पर 7 करोड़, मल जल नालियों पर 2.5 करोड़, बिजली लाइन के लिए 2 करोड़, मशीनरी सयंत्र 55 लाख वाहनों पर 90 लाख कार्यालय उपकरण के लिए 22 लाख फर्नीचर इत्यादि के लिए 10 लाख सार्वजनिक शौचालय के लिए 50 लाख तथा ट्री गार्ड, झूले सफाई उपकरण आदि स्थाई संपत्तियों पर कुल 15.82 करोड़ का बजट पेश किया। जिस पर कई पार्षदों ने विस्तृत चर्चा कर कई योजनाओं के मदों में संशोधन करने की चर्चा करते हुए कूल 61. 34 करोड का बजट पारित किया। जो कि पिछले वित्तीय वर्ष से करीब 6 करोड़ रुपए ज्यादा है। वही सदन में  सदस्यो द्वारा पिछले वित्तीय वर्ष में खर्च किए गए विभिन्न खर्चों में संदेह होने की स्थिति प्रकट की। जिसमें बाग नर्सरी पर 4.50 लाख रुपए का भुगतान किया गया परंतु एक भी पौधा कहीं लगा। जिसमें खुला भ्रष्टाचार होने की के आरोप लगाते हुए पार्षदों ने जल्द ही बोर्ड बैठक आयोजित कर संबंधित फाइलों को प्रस्तुत करने को कहा। वही फिनाइल, विल बैरेज, ट्री गार्ड आदि खरीद में अनियमितता होने की आशंका जताई जिसको लेकर सदन के सदस्यों द्वारा पालिका अधिशाषी अधिकारी विरवाल को आगामी बोर्ड बैठक में फाइलें प्रस्तुत करने को कहा। वही बोर्ड के मेंबरों द्वारा आरोप लगाया कि पालिका के कर्मचारी बोर्ड के  सदस्यों की समस्याओं का निराकरण नहीं करते हैं तथा सदस्यों को कोई भी जानकारी प्राप्त करने के लिए आरटीआई लगानी पड़ती है जो कि शर्म की बात है। भविष्य में पालिका अधिशासी अधिकारी को पारदर्शिता कार्यप्रणाली से काम करने का आग्रह किया। जिस पर पालिका अधिशासी अधिकारी वीरवाल ने कार्यप्रणाली में पारदर्शिता रखते हुए ज्यादा से ज्यादा टेंडर प्रक्रिया के माध्यम से काम करवाने का आश्वासन दिया। वही कोई भी विकास कार्य योजनाओं के संबंध में सदस्यों को सूचित करने के लिए अधिशासी अधिकारी को पाबंद किया गया। वही बैठक में पालिका उपाध्यक्ष-चेलाराम देवासी एवं निम्न सदस्यगण लतीफ खान, हीरी देवी, प्र्रकाश कुुमार, सुरेश मेवाडा, नीलम बोराणा, टीना देवी, परबतसिंह काबावत, रतनचन्द जैन, शंकरलाल घांची, पूर्णिमा देवी, कैलाश कुमार रावल, नीरू देवी, सुरेन्द्र मेवाडा, छगनलाल टांक, बिंदिया देवी, हसरत नीशा, संजय गर्ग, चम्पतलाल मेवाड़ा, नीता चैहान, जगदीश कुमार, अरविन्द कुमार, अचलसिंह बालिया, मनोनित सदस्य:- राकेश रावल, नरेन्द्र सिंह, अनीता कुंवर, भेराराम मेघवाल तथा नगरपालिका कर्मचारी भरत राजपुरोहित-कनिष्ठ सहायक, माणकलाल चंदेल - कैशियर आदि बैठक में उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं