Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

पांच स्कूली बच्चों की मौत: गांव में चूल्हे तक नहीं जले, पांचों भाई - बहनों का गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार

पांच स्कूली बच्चों की मौत: गांव में चूल्हे तक नहीं जले, पांचों भाई - बहनों का गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार जालोर। जिले के भीनमाल निकटवर्ती...

पांच स्कूली बच्चों की मौत: गांव में चूल्हे तक नहीं जले, पांचों भाई - बहनों का गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार



जालोर। जिले के भीनमाल निकटवर्ती दांतवाड़ा गांव के रानीवाड़ा - करड़ा रोड़ पर बुधवार शाम को हुई दिल दहलाने वाली घटना के चलते गांव पूरी तरह बंद रहा। गांव में दिनभर चूल्हे तक नहीं जले। जान गंवाने वाले भाई - बहनों का गुरुवार को गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार हुआ। पांच मासूमों की मौत के बाद हर कोई गमगीन रहा। ढाणी से पांच भाई - बहनों की घर से अर्थी उठी तो वहां कोहराम सा मच गया। हर किसी की आंखें नम हो गई। शवयात्रा गांव से गुजरी तो ग्रामीण भी आंसू नहीं रोक पाए। ग्रामीणों के मुंह पर ये ही शब्द थे 'हे भगवान यह क्या किया...'। कार चालक की लापरवाही से चार परिवारों के घर की खुशियां उजड़ गई। कांग्रेस नेता रतन देवासी ने मृतकों के परिजनों को अधिकाधिक सरकारी सहायता दिलवाने का आश्वासन दिया। घटना को लेकर पर्याप्त पुलिस जाब्ता तैनात रहा।

कार चालक को भेजा जेल:
कार को तेजगति व लापरवाही से चलाकर पांच बच्चों की जान लेने के मामले में पुलिस ने गंभीर अपराध में मामला दर्ज किया। करड़ा थाना प्रभारी अवधेश सांदू ने बताया कि कार चालक करवाड़ा निवासी सुरेशसिंह पुत्र सांवलसिंह रावणा राजपूत व अशोककुमार पुत्र हड़मताराम भील के खिलाफ धारा 304 आपराधिक मानव वध व 308 में अपराधिक मानव वध के प्रयास का मामला दर्ज किया। पुलिस ने दोनों वाहन चालकों का मेडिकल करवाकर उन्हें न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेजा गया।

कोई टिप्पणी नहीं