Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

जयपुर में निजी अस्पताल के ICU में वेंटीलेटर पर महिला मरीज से वार्डबॉय ने किया रेप।

जयपुर में निजी अस्पताल के ICU में वेंटीलेटर पर महिला मरीज से वार्डबॉय ने किया रेप। राजस्थान। प्रदेश की राजधानी जयपुर में एक अस्पताल में चौंक...

जयपुर में निजी अस्पताल के ICU में वेंटीलेटर पर महिला मरीज से वार्डबॉय ने किया रेप।



राजस्थान। प्रदेश की राजधानी जयपुर में एक अस्पताल में चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक नर्सिंग कर्मी की ओर से आईसीयू की एडमिट महिला के साथ अश्लीलता करने की बात सामने आई है। बताया जा रहा है कि सोमवार रात ड्यूटी पर तैनात एक मेल नर्सिंग कर्मचारी ने महिला की तबीयत का फायदा उठाते हुए उसके साथ अश्लील हरकत की। महिला का ऑपरेशन हुआ था। मुंह पर मास्क लगा था, दोनों हाथ बंधे थे। लिहाजा महिला की असमर्थता का मेल नर्सिंगकर्मी खुशीराम फायदा उठाता रहा है। घटना के बाद पीड़िता रातभऱ रोती रही, सुबह पति के आने पर महिला ने लिखकर पूरी आपबीती बताई। 
इस मामले में पीड़िता वेंटीलेटर पर थी, मुंह पर ऑक्सीजन की नली लगी थी। हाथ बंधे थे। शाम को ही सर्जरी हुई थी, जिससे पूरे शरीर में तकलीफ थी। इस हालत में भी जितना विरोध कर सकती थी किया, लेकिन उस दरिंदे को तरस नहीं आई। वह उसके शरीर को बार-बार टटोलता रहा और अपनी हवस पूरी करता रहा। 

यह मामला जयपुर के शैल्बी अस्पताल का है। यहां सोमवार रात आईसीयू में एक नर्सिंगकर्मी ने महिला मरीज के साथ यह हरकत की। अब महिला के पति की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ रेप का केस दर्ज किया गया है। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।
पीड़ित महिला आईसीयू में अकेली थी। वह इस घटना के बाद पूरी रात रोती रही। सुबह नर्स से शिकायत करने की कोशिश की तो नजदीक ही खड़े आरोपी ने इशारे से धमकी देकर चुप करा दिया। कुछ देर बाद पति वहां पहुंचा तो महिला ने उसे इशारे से घटना के बारे में बताने की कोशिश की। पति ने मामले की गंभीरता को समझा और उसे कॉपी - पेन थमा दिया। उसने पूरी कहानी लिखकर बता दी। इसके बाद पति ने थाने में शिकायत दर्ज कराई। आरोपी का नाम खुशीराम गुर्जर है। वह करौली के नादौती का रहने वाला है। वह यहां कानोता इलाके में विजयपुरा स्थित कृष्णा धाम में रहता था।

नए कानून में अश्लील हरकत को भी रेप माना जाता है:
आरोपी ने महिला के साथ अश्लील हरकत ही की, लेकिन उस पर रेप का ही केस दर्ज किया गया है। दरअसल, दिल्ली के निर्भया केस के बाद कानून में बदलाव किया गया था। अब गलत तरीके से छेड़छाड़ और अन्य तरीके के यौन शोषण को भी रेप की धाराओं में शामिल किया गया है।

पति को आईसीयू में रुकने से मना किया।:
महिला के पति ने बताया कि रात करीब 8 बजे उसकी पत्नी को आइसीयू में शिफ्ट किया गया था। इसके बाद हॉस्पिटल की ओर से बताया गया कि आप मरीज के साथ नहीं रुक सकते। इमरजेंसी में कोई जरूरत हुई तो हम आपको बुला लेंगे। इसके बाद वह घर चला गया।

सीसीटीवी फुटेज देखकर जांच की जा रही है:
डीसीपी प्रदीप मोहन शर्मा ने कहा कि यह वारदात बेहद गंभीर है। पीड़ित के पति ने शाम करीब साढ़े चार बजे चित्रकूट थाने पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज करवाई। मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने ड्यूटी चार्ट और सीसीटीवी कैमरों के आधार पर आरोपी की पहचान करके तलाश शुरू की। आरोपी आगरा रोड पर रहता था। पुलिस टीमों ने लोकेशन के आधार पर दबिश देकर उसे पकड़ लिया। थाने में लाने के बाद पूछताछ करके देर रात उसे गिरफ्तार कर लिया। वहीं, जांच अधिकारी पन्नालाल ने बताया कि अभी तक की जांच में सामने आया कि आईसीयू में दो अलग - अलग कमरे बने हुए हैं। फीमेल नर्स दूसरे कमरे के मरीजों को देख रही थी और आरोपी खुशीराम दूसरे कमरे के मरीजों को देख रहा था। इस दौरान उसने अश्लीलता की है। सीसीटीवी फुटेज से वहां मौजूद बाकी लोगों की भूमिका की भी पड़ताल की जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं