Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

भाभी से अवैध संबंध के चलते छोटे भाई को उतारा मौत के घाट।

भाभी से अवैध संबंध के चलते छोटे भाई को उतारा मौत के घाट। भरतपुर। जिले के पहाड़ी थाना इलाके में एक बड़े भाई ने छोटे भाई की हत्या कर दी। पुलिस क...

भाभी से अवैध संबंध के चलते छोटे भाई को उतारा मौत के घाट।




भरतपुर। जिले के पहाड़ी थाना इलाके में एक बड़े भाई ने छोटे भाई की हत्या कर दी। पुलिस के अनुसार छोटे भाई के अपनी भाभी से अवैध संबंध थे। इससे नाराज होकर बड़े भाई ने अपने चाचा के लड़के के साथ मिलकर छोटे भाई की डंडों से पीट-पीट कर हत्या कर दी। इतना ही नहीं बड़े भाई ने हत्या करने के बाद अपना जुर्म कबूल भी कर लिया।

जानकारी के मुताबिक यह मामला 24 जनवरी का है। गांव गाजुका में 23 साल के नसीम का शव छपरा के जंगलों में पड़ा था। नसीम के घर की कुछ महिलाएं जंगल में पशुओं को चराने के लिए गईं तो उन्होंने जंगल में शव पड़ा देखा। महिलाएं जंगल से भाग कर गांव पहुंची और ग्रामीणों को घटना के बारे में बताया। ग्रामीण जंगल में पहुंचे। शव की शिनाख्त 23 साल के नसीम के रूप में हुई। नसीम के शव पर लाठी-डंडों के निशान बने हुए थे जिसके बाद मौके पर पुलिस को बुलाया गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर उसका पोस्टमार्टम करवाया और शव परिजनों को सौंप दिया।

जब नसीम के शव को दफनाया जा रहा था तो नसीम के बड़े भाई वसीम ने ग्रामीणों और अपने घर वालों के सामने अपने छोटे भाई नसीम की हत्या करना कबूल किया। वसीम ने बताया की छोटे भाई की हत्या में उसके चाचा के लड़के राशिद ने भी उसका साथ दिया था। उन्होंने नसीम की हत्या की प्लानिंग 2 दिन पहले बनाई थी। वे 23 जनवरी को नसीम को लेकर जंगल चले गए जहां तीनों ने शराब पी और लाठियों से उसकी पीट-पीट कर हत्या कर दी।

वसीम ने जब अपने छोटे भाई की हत्या करना कबूल किया तो परिजनों और ग्रामीणों ने उसे पुलिस के हवाले कर दिया। वसीम ने जिस डंडे से छोटे भाई की हत्या की थी उसे जंगल में छुपा रखा था, वसीम ने वह भी पुलिस के हवाले कर दिया।

पुलिस पूछताछ में सामने आया है की नसीम के बड़े भाई की पत्नी से अवैध संबंध थे। नसीम के बड़े भाई वसीम को इस बारे में पता लग गया जिसके बाद उसने अपने चाचा के लड़के राशिद के साथ हत्या की प्लानिंग बनाई और 23 जनवरी की रात को नसीम ने अपने छोटे भाई वसीम की डंडों से पीट-पीटकर हत्या कर दी। जानकारी के मुताबिक नसीम तीन भाई थे। तीनों भाइयों की शादी तीन बहनों से हुई थी।

कोई टिप्पणी नहीं