Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

अल्पसंख्यकों एवं पिछड़े वर्ग के लिए विशेष प्रयास कर मुख्य धारा से जोड़े: लोक बन्धु

अल्पसंख्यकों एवं पिछड़े वर्ग के लिए विशेष प्रयास कर मुख्य धारा से जोड़े: लोक बन्धु बाडमेर। जिले में अल्पसंख्यक समुदाय के कल्याण के लिए चलाए जा...

अल्पसंख्यकों एवं पिछड़े वर्ग के लिए विशेष प्रयास कर मुख्य धारा से जोड़े: लोक बन्धु




बाडमेर। जिले में अल्पसंख्यक समुदाय के कल्याण के लिए चलाए जा रहे पन्द्रह सूत्री कार्यक्रम की समीक्षा बैठक गुरुवार सांय जिला कलेक्टर लोक बंधु की अध्यक्षता में आयोजित हुई।
इस अवसर पर जिला कलेक्टर बंधु ने बताया कि जिले में अल्पसंख्यकों की आबादी के अनुपात में उनकी सभी विकास योजनाओ में भागीदारी सुनिश्चित होनी चाहिए। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार की योजनाओं एवं कल्याणकारी कार्यक्रमों में अल्पसंख्यक समुदाय को विशेष प्रयास कर मुख्य धारा में जोड़ने का कार्य करने की आवश्यकता है। उन्होने बताया कि उनके माध्यम से जिले में अल्प संख्यक के कल्याण के कार्यक्रमों का प्रभावी क्रियान्वयन करने के साथ साथ विभिन्न विभागों के मध्य बेहतर समन्वय के द्वारा सभी योजनाओं के लाभार्थियों में अल्प संख्यकों की समुचित भागीदारी सुनिश्चित की जाए।
जिला कलेक्टर ने सरकार द्वारा संचालित सभी योजनाओं में लाभार्थियों के आंकडे निकाल कर उनमें अल्पसंख्यक समुदाय के लाभान्वितों के नामांकन को बढ़ाने के निर्देश दिए। पन्द्रह सूत्री कार्यक्रम की बिन्दुवार समीक्षा के पश्चात् उन्होने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के बच्चों को उनकी आबादी के अनुपात में स्कूलों एवं आंगनवाड़ी केंद्रों में नामांकित करने, अल्पसंख्यक समुदाय के व्यक्तियों को प्राथमिकता से ऋण मुहैया कराने के लिए विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए।
उन्होने अल्पसंख्यक बाहुल्य गांव में एकीकृत बाल विकास योजना व सेवाओं की समुचित उपलब्धता, विद्यालयी शिक्षा की उपलब्धता को सुधारना तथा उर्दू शिक्षण के लिए संसाधन व विकल्प सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।
जिला कलेक्टर ने अल्पसंख्यक समुदाय के मेघावी विद्यार्थियों के लिए पूर्व मेट्रिक, उत्तर मेट्रिक एवं मेरिट कम मीन्स छात्रवृति योजनाओं के लाभान्वितों के बारे में जानकारी लेते हुए उक्त योजनाओं का व्यापक प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिए ताकि अधिकाधिक अल्पसंख्यक समुदाय के बच्चे लाभान्वित हो सकें।
जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी अमीन खां ने विभाग के कार्यकलापों की जानकारी दी। इस दौरान नगर परिषद आयुक्त योगेश आचार्य, महिला एवं बाल विकास विभाग के उप निदेशक प्रहलादसिंह राजपुरोहित समेत विभिन्न विभागों के जिलाधिकारी मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं