Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

चांदेसरा में आयोजित सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा और नैनी बाई के मायरे का हुआ समापन।

चांदेसरा में आयोजित सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा और नैनी बाई के मायरे का हुआ समापन। @शौक़त सोलंकी बाड़मेर/बायतु। उपखंड क्षेत्र की चांदेसरा ग्र...

चांदेसरा में आयोजित सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा और नैनी बाई के मायरे का हुआ समापन।




@शौक़त सोलंकी
बाड़मेर/बायतु। उपखंड क्षेत्र की चांदेसरा ग्राम पंचायत मुख्यालय पर आयोजित हो रही श्रीमद्भागवत कथा और नैनीबाई के मायरे का समापन बुधवार को हुआ। प्रेमहरि प्राणी मात्र सेवा संस्थान जोधपुर के तत्वावधान में कथा वाचक संत प्रेमहरि महाराज के मुखारविंद से श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन हुआ। कथा का वाचन करते हुए संत ने कहा कि राष्ट्र और धर्म को बचाना है तो गौमाता की रक्षा करनी बहुत ही जरूरी है। उन्होंने युवाओं से नशे से दूर रहने की अपील की। साथ ही संत ने कथा पांडाल मे विराजमान भक्तों से कहा कि वे अपनी संतान को संस्कारवान बनाएं और अपनी संतान की हर गतिविधि पर नजर रखें। उन्होंने कहा कि यदि आप अपनी संतान को संस्कारवान बनाना चाहते हैं तो उन्हें मोबाईल से दूर रखें। वहीं बुधवार रात्री को नैनीबाई के मायरे का वाचन पंड़ित दिनेश वैष्णव के श्रीमुख भी समापन हुआ। 



इस दौरान भोमाराम पुत्र मालाराम बेनीवाल परिवार बोटाला ने 1 लाख 55 हजार रूपयों का नैनीबाई का मायरा भरा। वहीं भागवत के मुख्य यजमान शैतानसिंह पुत्र भीखसिंह राजपुरोहित ने 35 हजार का चढ़ावा लिया। साथ ही जाट नवयुवक मंडल ने 71 हजार का सहयोग प्रदान किया। इस अवसर पर भाजपा नेता तिलोकचंद सारण और रालोपा नेता थानसिंह डोली ने भी भक्तगणों को संबोधित किया। इस दौरान रामाराम सेंवर, दुर्गाराम गोदारा, उमेदसिंह राठौड़, रामाराम बेनिवाल, भोमाराम गुजर, रूपाराम सारण, गणपत पाबडा, सुरेश बेनिवाल, पेमाराम गुजर, भेराराम गुजर, जसराज पाबडा, चन्द्रप्रकाश सारण, अर्जुनराम बेनिवाल, देवेन्द्र सारण, रमेश सारण सहित सैकड़ो भक्तगण मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं