Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाले युगल के परिवार को रिश्ता मंजूर नहीं, कोर्ट से मांगी सुरक्षा

लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाले युगल के परिवार को रिश्ता मंजूर नहीं, कोर्ट से मांगी सुरक्षा जोधपुर। जिले के झंवर थाना क्षेत्र में युवक युवती ...

लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाले युगल के परिवार को रिश्ता मंजूर नहीं, कोर्ट से मांगी सुरक्षा




जोधपुर। जिले के झंवर थाना क्षेत्र में युवक युवती के लिव इन रिलेशनशिप में रहने से दोनों के परिजन नाराज थे। ऐसे में दोनों ने कोर्ट में सुरक्षा की गुहार लगाई। कोर्ट ने पुलिस सुरक्षा के आदेश दिए। लड़की लूणी थाना क्षेत्र की और लड़का माणकलाव का है। दोनों किसी सामाजिक कार्यक्रम में मिले तो उनके बीच प्यार हो गया।

दोनों ने शादी का मन बनाया लेकिन उससे पहले लिव इन में रहने की ठानी और 29 नवंबर को एग्रीमेंट तैयार किया। दोनों के परिजनों को पता लगा तो वह नाराज हो गए। लड़की के परिजनों से धमकी भी दी। इस पर दोनों ने एडवोकेट निखिल भंडारी के माध्यम से कोर्ट में मुकदमा पेश किया। जिस पर सुनवाई करते हुए जज ने पुलिस सुरक्षा के आदेश दिए।

एडवोकेट निखिल भंडारी ने बताया कि मनीषा और दिनेश चौहान ने आपस में लिव-इन रिलेशनशिप में रह रहे हैं। लेकिन मनीषा के पीहर पक्ष वालों से उन दोनों को जान व माल का खतरा लगातार बना हुआ है। इस पर क्रिमिनल रिट पीटिशन हाईकोर्ट में दायर की। जिस पर सुनवाई के दौरान एडवोकेट ने पुलिस सुरक्षा की मांग की।

एडवोकेट ने सुनवाई के दौरान बहस करते हुए कहा कि भारतीय संविधान के अनुच्छेद 21 में सभी नागरिकों को जीवन जीने तथा व्यक्तिगत स्वतंत्रता का मूलभूत अधिकार प्राप्त हैं। किसी के द्वारा भी इसका उल्लंघन व्यक्ति के मौलिक अधिकारों का हनन हैं। हाईकोर्ट न्यायाधीश जस्टिस पुष्पेन्द्र सिंह भाटी ने हुए लिव-इन रिलेशनशिप में रहने वाले प्रेमी प्रेमिका को पुलिस सुरक्षा प्रदान करने का आदेश पारित किया।

कोई टिप्पणी नहीं