Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

पुलिस ने चोरियों का खुलासा करते हुए चार आरोपियों को किया गिरफ्तार

पुलिस ने चोरियों का खुलासा करते हुए चार आरोपियों को किया गिरफ्तार जैसलमेर। जिला पुलिस अधीक्षक भंवरसिंह नाथावत के निर्देशन में पुलिस थाना सां...

पुलिस ने चोरियों का खुलासा करते हुए चार आरोपियों को किया गिरफ्तार




जैसलमेर। जिला पुलिस अधीक्षक भंवरसिंह नाथावत के निर्देशन में पुलिस थाना सांगड़ द्वारा चोरी की वारदातों का खुलासा कर चार आरोपियों को गिरफतार किया।

ज्ञात रहे कि 27 नवम्बर को प्रार्थी भगाराम पुत्र गजाराम निवासी उण्डा ने पुलिस थाना सांगड़ पर रिपोर्ट पेश की कि ग्राम जसूवा में मेरा खातेदारी खेत आया हुआ है। जहां 15 नवम्बर की रात्री में मेरे खेत के खलिहान में 15 बोरी ग्वार अन्य सामान व एक विधुत मशीन रखी हुई थी। में अपने खलिहान से कुछ दूरी पर बने अपने झोपे में सो गया। रात में मैने गाड़ी की आवाज सुनी तो में बाहर आया तो सुरताराम भील निवासी फतेहगढ व कुछ अन्य लोगो ने मेरा ग्वार व सामान गाड़ी में डालकर भाग गए। मैने गांव के लोगो को फोन कर सूचना दी जब तक ये लोग गाड़ी को कच्चे रास्तो से भगाकर ले गये तथा 28 नवम्बर को प्रार्थी अखेसिंह पुत्र कंवराजसिंह निवासी भीयासर ने पुलिस थाना सांगड़ पर रिपोर्ट पेश की कि मेरी ढाणी के पास पशुओं (छांग) के बाड़े में 11 नवम्बर की रात्री में मेरे व मेरे भाई के बकरे कोई अज्ञात चोर चुराकर ले गया और सुबह उठे तो बाड़े में बकरे नहीं मिले। पुलिस ने दोनों प्रार्थियों की रिपोर्ट पर अलग - अलग प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान शुरू किया गया।

ऐसे हुई पुलिस कार्यवाही

चोरी की वारदात को गंभीरता से लेते हुए जिला पुलिस अधीक्षक, जैसलमेर भंवरसिंह नाथावत द्वारा थानाधिकारी पुलिस थाना सांगड़ सुमेरसिंह निपु. को विशेष दिशा निर्देश दिये गये, निर्देशों की पालना में सुमेरसिंह निपु. के नेतृत्व में पुलिस टीम गठित कर टीम द्वारा सरगर्मी से तलाश कर मुल्जिमान भागीरथ उर्फ रतनाराम पुत्र पिछाराम निवासी घोनिया पुलिस थाना चौहटन जिला बाड़मेर, वीरमाराम पुत्र पिछाराम निवासी घोनिया पुलिस थाना चौहटन जिला बाड़मेर, कोशलाराम पुत्र पुत्र राउराम निवासी आर्दश लुखु पुलिस थाना धोरीमन्ना जिला बाड़मेर व खेताराम पुत्र प्रभुराम निवासी जूना पतरासर जिला बाड़मेर को पूछताछ के बाद गिरफतार किया गया। आरोपियों को अनुसंधान के बाद न्यायालय में पेश कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया। पुलिस द्वारा इस प्रकरण में विस्तृत अनुसंधान जारी हैं।

ये थी पुलिस टीम

सुमेरसिंह निपु, आसुराम एचसी, कानि रेखाराम, सुरेश चन्द्र, संजय कुमार, मेघदान, दिनेश शामिल रहे।

कोई टिप्पणी नहीं