Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

मूकबधिर बालिका के साथ हुए सामुहिक दुष्कर्म मामले में दो आरोपी गिरफ्तार

मूकबधिर बालिका के साथ हुए सामुहिक दुष्कर्म मामले में दो आरोपी गिरफ्तार बाड़मेर/धोरीमन्ना। मूकबधिर युवती के साथ गैंगरेप मामले का जिला पुलिस अ...

मूकबधिर बालिका के साथ हुए सामुहिक दुष्कर्म मामले में दो आरोपी गिरफ्तार




बाड़मेर/धोरीमन्ना। मूकबधिर युवती के साथ गैंगरेप मामले का जिला पुलिस अधीक्षक ने खुलासा करते हुए बताया की पुलिस टीम द्वारा इस मामले में दो युवकों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की हैं। मामले का खुलासा करते हुए बताया कि बकरियां चराने वाली मूकबधिर युवती को अकेला देखकर पास ही के प्राइवेट कॉलेज संचालक व उसी कॉलेज में लगे एलडीसी ने गैंगरेप किया है। युवती मूकबधिर होने के कारण आरोपियों की पहचान करना सबसे बड़ी चुनौती थी। पुलिस ने 15-17 संदिग्ध लोगों से पूछताछ कर चुकी थी। अब पुलिस ने 17 दिन बाद कॉलेज संचालक व एलडीसी को गिरफ्तार, किया है। घटना बाड़मेर जिले के धोरीमन्ना कस्बे में 24 नवंबर के शाम की है। आरोपी घटना के बाद से फरार हो गए थे। एक आरोपी द्वारा पुलिस को गुमराह भी किया था। वहीं सीसीटीवी में दिखने वाली बोलेरो गाड़ी का हुलिया भी बदल दिया। पुलिस की अब तक की पूछताछ में सामने आया है कि एक युवक ने युवती के साथ रेप किया लेकिन पूछताछ जारी है।



एसपी दीपक भार्गव के मुताबिक युवती मूकबधिर होने के कारण आरोपियों को पकड़ पाना मुश्किल हो गया था। युवती इशारों व थोड़ा बहुत लिखना जानती थी। परंतु कम्यूनिकेशन के अभाव में सब चीजें स्पष्ट नहीं हो पा रही थी। एएसपी नीतेश आर्य, डीएसपी शुभकरण खीची व थानाधिकारी सुखराम विश्नोई, डीसीआरबी प्रभारी महिपालसिंह की टीम ने कड़ी से कड़ी मिलाकर सुनील (21) पुत्र साजनराम निवासी कोजा व भजनलाल (27) पुत्र हरीराम निवासी मीठड़ा को गिरफ्तार किया है। सीसीटीवी में बोलेरो कैंपर की पहचान हो पाई थी लेकिन आरोपियों ने गाड़ी का हुलिया भी बदल दिया। पुलिस दोनों आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। घटना में और कोई शामिल है या नहीं इनको भगाने मे किसी ने मदद की है तो उनके खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

यह थी पूरी घटना 

पुलिस को परिजनों से मिली रिपोर्ट के मुताबिक 24 नवंबर की शाम को करीब 4 बजे मूक बधिर युवती (20) स्कूल के पास में बकरियां चराने के लिए गई थी। तभी एक सफेद बोलेरो कैंपर सड़क के किनारे आकर रुकी। इसमें दो-चार युवक उतरे और खेत में बकरियां चार रही युवती के मुंह पर हाथ रख वन विभाग के एरिया की दीवार के पीछे ले जाकर युवकों ने बारी-बारी रेप किया। युवती के अंदरूनी अंगों पर गहरी चोट से बेहोश हो गई। पिता ने बताया कि देर शाम तक युवती जब घर पर नहीं आई तो मैं और एक अन्य पैरों के निशान देखकर मौके पर गए। वहां पर युवती बेहोश की हालात में पड़ी थी। युवती को धोरीमन्ना हॉस्पिटल लाए थे।

इस टीम ने पकड़े आरोपी

धोरीमन्ना थानाधिकारी के नेतृत्व में हैड कांस्टेबल सवाईराम, कांस्टेबल जगाराम, जयराम, जबराराम, ओमप्रकाश, भंवरलाल, महिला कांस्टेबल सीमा, डीसीआरबी प्रभारी हैड कांस्टेबल महिलपालसिंह, कांस्टेबल लुंभाराम, तकनीकी सेल मोहनलाल की टीम ने 17 दिन तक कड़ी से कड़ी मिलाकर आरोपियों को गिरफ्तार किया।

कोई टिप्पणी नहीं