Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

धोरीमाना आदर्श विद्यालय में किशोरियों को जागरूक शिविर का आयोजन

धोरीमाना आदर्श विद्यालय में किशोरियों को जागरूक शिविर का आयोजन बाड़मेर/धोरीमना। विद्या भारती विद्यालय आदर्श विद्या मंदिर माध्यमिक धोरीमना की...

धोरीमाना आदर्श विद्यालय में किशोरियों को जागरूक शिविर का आयोजन



बाड़मेर/धोरीमना। विद्या भारती विद्यालय आदर्श विद्या मंदिर माध्यमिक धोरीमना की ओर से आज किशोरी शिविर का आयोजन किया गया। 
प्रधानाचार्य चेतनानंद बोहरा बताया कि किशोरी शिविर के तहत स्वस्थ बालिका स्वस्थ समाज का संदेश देने के उद्देश्य से आज आदर्श विद्या मंदिर माध्यमिक धोरीमना ने किशोरी शिविर का आयोजन किया गया इस शिविर का स्वास्थ्य के प्रति इस प्रकार के कार्यक्रम के आयोजन का प्रमुख उद्देश्य बालिकाओं को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना है। बालिकाओं, अभिभावकों और स्कूल के आचार्य आचार्यों को को इस बाबत जागरूक करने का प्रयास किया जाता है। क्योंकि देखा जाता है महिलाओं और बच्चियों के स्वास्थ्य के प्रति समाज का नजरिया व घरवालों की लापरवाही स्वस्थ समाज की संकल्पना को बाधित करती है। जिसे जागरूकता के माध्यम से दूर किया जा सकता है। 
जिसके तहत आज डॉक्टर गुड्डी जैन ने बताया कि बहिनों की कुछ सामान्य समस्याएं होती है जो वह अमूमन किसी के साथ साज्ञा नहीं करती है लेकिन यह परिस्थितियां प्राकृतिक परिस्थितियां होती है जो हमें छुपानी नहीं चाहिए इसे अपने नजदीकी या अपने हितेषी लोगों को अवश्य बता देनी चाहिए ताकि समय रहते हुए इनका निराकरण किया जा सके अभिभावकों के समक्ष बालिकाओं की वर्तमान परिस्थितियां और बालिकाओं की योग्यता को रखा गया साथ ही बालिकाओं के स्वास्थ्य की जांच के साथ-साथ एक संतुलित भोजन चार्ट प्रस्तुत किया गया जिसमें अभिभावकों से आग्रह किया गया बालिकाओं को कुपोषण से बचाने के लिए हमें समय-समय पर इन्हें संतुलित भोजन दे इसके लिए हमें हमेशा सतर्क रहना चाहिए इस सर्दी के मौसम में अमूमन बालिकाओं को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है यदि अभिभावक सतर्क रहकर की बालिकाओं की समस्याओं को सुनेंगे तो बालिकाओं में स्वस्थ मन स्वस्थ दिमाग का निवास रहेगा जिससे यह देश समाज और वर्तमान परिस्थिति में हमारा समाज में कुछ नया अध्ययन करेंगे जिससे समाज को कई तरह के फायदे हो सकते हैं होंगे इस कार्यक्रम में यह संदेश दिया जा रहा है।जिसके तहत आज कई तरह के कार्यक्रम हुए जिसमें विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिता जिसमें रस्साकशी, मेहंदी प्रतियोगिता, चोटी बांधो प्रतियोगिता, रंगोली बनाना, म्यूजियम चेयर, नींबू चम्मच दौड़, मटकी दौड़, साड़ी पहनना और अंताक्षरी का आयोजन किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं