Page Nav

SHOW

Breaking News:

latest

अनमोल जीवन अभियान: BSF में मानसिक स्वास्थ्य और आत्महत्या रोकथाम पर नुक्कड़ नाटक का मंचन

अनमोल जीवन अभियान: BSF में मानसिक स्वास्थ्य और आत्महत्या रोकथाम पर नुक्कड़ नाटक का मंचन बाड़मेर। केयर्न ऑयल एण्ड गैस वेदान्ता लिमिटेड, जनसेव...

अनमोल जीवन अभियान: BSF में मानसिक स्वास्थ्य और आत्महत्या रोकथाम पर नुक्कड़ नाटक का मंचन




बाड़मेर। केयर्न ऑयल एण्ड गैस वेदान्ता लिमिटेड, जनसेवा समिति, नगर परिषद बाड़मेर के संयुक्त तत्वावधान में बाबूसिंह सोलंकी स्मृति समाज साहित्य शोध व सेवा संस्थान, हैफा हीरो मेजर दलपतसिंह युवा क्लब बाड़मेर, मयूर ग्रामीण विकास संस्थान द्वारा मानसिक स्वास्थ्य और आत्महत्या रोको, "जीवन अनमोल" जागरूकता 'नुक्कड़ नाटक' एड्स एक महामारी और मानसिक स्वास्थ्य 17 दिसंबर को सांय 6 बजे 83 BSF सूबेदार कृष्ण कुमार के देखरेख मे आयोजित हुआ। जिसमें बीएसएफ अधिकारियों सहित 90 जवानो ने परिवार सहित एड्स रूपी राक्षस प्रेमसिंह निमो॔ही की अट्टहास हसीं का आनंद लिया तो वही टूटते दिल की वजह से आत्महत्या करने को उतारू निराश प्रेमी के दु:ख में सभी ने सांत्वना देकर मानसिक आघात से बचा लिया। निराश प्रेमी के रोल में प्रेमसिंह निमो॔ही तो वही देशभक्ति के जज्बात में अल्का शमा॔, मोटिवेशन में काउन्सलर जय परमार, जितेंद्र सोलंकी का अभिनय प्रभावशाली रहा।



मुख्य अतिथि पुलिस उप अधीक्षक आनन्दसिंह राजपुरोहित ने जवानो से मानसिक स्वास्थ्य पर विस्तृत चर्चा की उन्हे बताया कि मानसिक स्वास्थ्य कितना आवश्यक है और इसके लिए कुछ टिप्स भी जवानो को दी। होम्योपैथिक चिकित्साधिकारी डॉ. श्रवण कोडेचा ने आत्महत्या का मुख्य कारण तनाव बताया, इससे बचने के लिए मनोचिकित्सक एवं काउंसलर से सलाह लेने का बताया, आत्महत्या के ख़्याल आने के संकेतों के बारे में बताया तनावग्रस्त लोगों में क्या क्या बदलाव आते ही उसके बारे में बताया। इंसान को पॉज़िटिव रहने एवं अपनी क्षमता बढ़ाने के लिए हर दिन अपने जीवन में जो कुछ मिला हुआ है उसके लिए आभार (ग्रेटिट्यूड) व्यक्त करना और अर्थ से अर्थिंग लेने से इंसान के अंदर सारा तनाव निकल जाता हैं, प्रकृति द्वारा प्रदान किए गए फल, कच्ची सब्ज़िया खाने के बारे में बताया और पोजिट्व होने के लिए विज्ञान और अध्यात्म का सहारा लेने के बारे में बताया।



नुक्कड़ नाटक के माध्यम से बताया कि एड्स एक महामारी है और एड्स होने पर सही समय पर दवाई से उपचार लेने पर अन्य परेशानियों से बचाव किया जा सकता है और साथ ही मानसिक स्वास्थ्य को हम मोटिवेशन और जागरूकता कार्यक्रम के माध्यम से हम मानसिक स्वास्थ्य को सुदृढ़ कर सकते है। अन्त में आत्महत्या करने वाले को पहचानने की ट्रिक प्रेमसिंह निमो॔ही व्दारा बताई गई इस कार्यक्रम 83 BSF सूबेदार कृष्ण कुमार, पुलिस उप अधीक्षक आनन्दसिंह राजपुरोहित, डॉ. श्रवण कोडेचा, मयूर ग्रामीण विकास संस्थान के मैनेजर ओमप्रकाश माली, कोरोना योध्दा प्रेमसिंह निमो॔ही, एचआईवी काउंसलर अल्का शर्मा, मेडीकल कॉलेज से रूपनारायण गौड़, नसि॔ग आॕफिसर जय परमार, इन्जीनियर चैनाराम चौधरी रोहिली, प्रोपटी॔ डिलर जितेन्द्र सोलंकी और समस्त BSF स्टाफ उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं